AAP-ask-modi-govt-when-will-you-take-action-on-panama-papers

पनामागेट: नवाज शरीफ की छुट्टी, AAP ने पूछा मोदी सरकार कब करेगी कार्रवाई।

0Shares

पनामा पेपर्स मामले में पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक ऐतिहासिक फैसला देते हुए पनामागेट मामले में पकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को दोषी करार दिया। सुप्रीम कोर्ट द्वारा दोषी दिए जाने के बाद नवाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा। इसके साथ ही नवाज शरीफ आजीवन प्रधानमंत्री पद के लिए अयोग्य भी हो गए हैं। नवाज शरीफ को न ही सिर्फ प्रधानमंत्री पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा है बल्कि इसके साथ ही नवाज शरीफ का राजनितिक कैरियर पारी भी ख़त्म हो गई है। इससे पहले पनामा मामले में कई देशो के राजनीतिक हस्तियों को अपने पद से इस्तीफ़ा देना पड़ा है।


पनामा पेपर्स लीक की सूची में 500 से ज़्यादा भारतीय भी शामिल है। जिनमें भारत के नामी फिल्मस्टार, राजनीतिक परिवार, बिजनेस के बड़े घराने के दिगज्जों के नाम शामिल हैं। मगर भारत में फिलहाल पनामा पेपर्स लीक को लेकर अब तक कोई हलचल नहीं दिख रहा है। मीडिया से लेकर देश की दो सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टियों के गलियारे में सन्नाटा सा पसरा है। इसका एक कारण यह भी है कि शायद इस मामले के खुलासे से किसी राजनीतिक पार्टियों को कोई फायदा मिलता नहीं दिख रहा है।

AAP ने पूछा मोदी सरकार पनामा पेपर्स में शामिल लोगों पर कब करेगी कार्रवाई।

फिलहाल आम आदमी पार्टी ने पनामा पेपर्स लीक मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। आम आदमी पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए पूछा है कि पाक जैसे कमजोर लोकतांत्रिक देश में इस मामले की जांच कर दोषी पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को बर्खास्त कर दिया गया है। मगर विश्व के सबसे बड़े लोकतान्त्रिक देश में इस मामले पर कोई कार्यवाही क्यों नहीं हो रही है। आम आदमी पार्टी ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, पनामा पेपर्स में शामिल लोगों की जांच न कर के मोदी सरकार इस मामले से जुड़े नामचीन सिने स्टार अमिताभ बच्चन, अजय देवगन, बड़े औद्योगिक घरानों से ताल्लुक रखने वाले अडानी व बीजेपी मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे जैसे खुद के करीबी कई नामचीन हस्तियों को बचा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *