AAP-govt-bans-on-chinese-Manjha-in-Delhi

केजरीवाल सरकार ने चाइनीज मांझा पर लगाया बैन।

0Shares

दिल्ली की केजरीवल सरकार ने राजधानी क्षेत्र में चाइनीज मांझे के खरीद-फरोख्त व इस्तेमाल पर तुरंत प्रभाव से पूर्णतया प्रतिबन्ध लगाया दिया है। केजरीवाल सरकार ने चाइनीज मांझे पर प्रतिबंध लगाने के लिए नोटिफिकेशन जारी किया। नोटिफिकेशन के मुताबिक दिल्ली में अब पतंग उड़ाने के लिए चाइनीज मांझे की खरीद-फरोख्त व इस्तेमाल पर पूर्णतया प्रतिबंधित है। नोटिफिकेशन के मुताबिक दोषी पाए जाने वाले पर 1 लाख रुपए तक का जुर्माना और 5 साल तक की सजा या दोनों हो सकती है। दिल्ली में सिर्फ कॉटन के मांझे (सीसा, प्लास्टिक रहित) का इस्तेमाल किया जा सकता है। अगस्त के महीने में पतंग ज्यादा उड़ाई जाती है, चाइनीज मांझा पक्षियों के हताहत होने के साथ ही इंसानों के लिए भी जानलेवा साबित हुआ है।


वर्ष 2015 के अगस्त महीने में कई मामले सामने आये थे जिसमे चाइनीज मांझा जानलेवा साबित हुआ था। अगस्त, 2015 में नारायणा से मूवी देखकर परिवार के साथ कार से घर लौट रही एक 3 साल की बच्ची की चाइनीज मांझे की वजह से मौत हो गई थी। पति-पत्नी अपनी इकलौती बेटी के साथ होंडा सिटी कार से घर लौट रहे थे, घर लौटते समय बेटी कार की रूफ विंडो से बाहर झांक रही थी तभी अचानक बच्ची के गले में मांझा फंस गया और माँ-बाप को पता भी नहीं चला। बच्ची जब लहूलुहान होकर गोद में गिरी तब परिवार को पता चला। अस्पताल ले जाते समय ही बच्ची ने डैम तोड़ दिया था।


दिल्ली के विकासपुरी में मांझे की चपेट में आकर एक बाइकसवार की मौत, बिंदापुर के भगवती विहार में मांझे से 3 साल की बच्ची की गर्दन कटने से मौतहाइटेंशन तार से मांझे में करंट आने के कारण एक बच्चा बुरी तरह झुलसने का मामला आया था। पतंग कारोबारी बताते हैं चाइनीज मांझे में प्लास्टिक व कांच जैसे मजबूत पदार्थ शामिल होते हैं। इस वजह से यह चाइनीज मांझे आसानी से टूटते नहीं हैं। इसमें धार भी होती है। पतंग बाजों को यही खासियत चाइनीज मांझे की तरफ आकर्षित करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *