बाबा रामदेव ने सर्दी-खांसी की दवा को बताया कोरोना की दवा! नोटिस जारी

बाबा रामदेव ने सर्दी-खांसी की दवा को बताया कोरोना की दवा! नोटिस जारी

बाबा रामदेव द्वारा लॉन्च की गई पतंजलि द्वारा निर्मित कोरोना की दवाई Coronil लॉन्च होते ही विवादों में घिर गई है। इससे पहले लांच होते ही आयुष मंत्रालय ने कोरोनिल दवा के प्रसार-प्रचार विज्ञापन पर रोक लगा दिया था। इसके बाद बुधवार को बाबा रामदेव की दवा को एक और झटका लगा है। इस बार उत्तराखंड की आयुर्वेद ड्रग्स लाइसेंस अथॉरिटी ने बाबा की दवा पर सवाल उठाया है।

आयुष मंत्रालय के बाद अब प्रदेश आयुर्वेदिक ड्रग लाइसेंस अथॉरिटी ने भी बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। अथॉरिटी के उपनिदेशक ने बताया कि बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि को जारी किया गया लाइसेंस कोरोना की दवा के लिए नहीं बल्कि इम्युनिटी बूस्टर और खांसी-जुकाम की दवा के लिए था। कोरोना के इलाज के लिए पतंजलि की दवा को लेकर आयुष मंत्रालय का कहना है कि उसे इस बात की जानकारी नहीं है कि किस वैज्ञानिक अध्यन के आधार पर कोरोना की दवा बनाने का दावा किया गया है।

रावत ने कहा कि भारत सरकार का निर्देश है कि कोई भी कोरोना के नाम पर दवा बनाकर उसका प्रचार-प्रसार नहीं कर सकता। आयुष मंत्रालय से वैधता मिलने के बाद ही ऐसा करने की अनुमति होगी। उन्होंने कहा कि फिलहाल, विभाग की ओर से पतंजलि को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया है। बाबा ने दावा किया था कि क्लिनिकल टेस्ट में दवा से 100 फीसदी सफल परिणाम सामने आया है।

Web Link: baba ramdev launches Coronil on the license of cold-cough medicine.