आतंकियों को पनाह देने वाले दविंदर को मिली ज़मानत, गोदी मीडिया में सन्नाटा।

आतंकियों को पनाह देने वाले दविंदर को मिली ज़मानत, गोदी मीडिया में सन्नाटा।

आतंकियों को पनाह देने वाले दविंदर को मिली ज़मानत, गोदी मीडिया में सन्नाटा।

आतंकवादियों की सहायता करने के आरोपी जम्मू एवं कश्मीर पुलिस के पूर्व पुलिस अधिकारी दविंदर सिंह को जमानत मिल गई है। दरअसल दविंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद 90 दिन की अवधि में दिल्ली पुलिस को चार्जशीट दायर करनी थी। दविंदर सिंह मामले में दिल्ली पुलिस तय समय में चार्जशीट दायर करने में विफल रही है। दिल्ली पुलिस के तय अवधि के भीतर चार्जशीट दाखिल करने में विफल रहने के बाद कोर्ट ने दविंदर को जमानत दे दी है।

दविंदर सिंह को इस साल की शुरुआत में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किया गया था। मालूम हो कि इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने पिछले महीने दविंदर सिंह की न्यायिक हिरासत 16 जून तक के लिए बढ़ा दी थी। दविंदर सिंह को श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर एक वाहन में हिज्बुल मुजाहिदीन के दो आतंकवादियों को ले जाते हुए गिरफ्तार किया गया था।

दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 120 बी के तहत एफआईआर दर्ज की थी। पीटीआई के अनुसार वे विभिन्न इंटरनेट प्लेटफॉर्म्स पर अन्य आरोपियों और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों से बात किया करते थे और यह मामला ‘दिल्ली समेत देश के अन्य हिस्सों में आतंकी हमलों की योजना और अमल से जुड़ा हुआ है।’

दिल्ली पुलिस ने इससे पहले अदालत को बताया था कि शोपियां में हिजबुल के कमांडर सैयद नवीद मुश्ताक उर्फ नवीद बाबू अन्य लोगों के साथ मिलकर दिल्ली और देश के अलग-अलग हिस्सों में हमले और सुरक्षा प्राप्त लोगों को मारने की योजना बना रहे थे। इसी प्राथमिकी के तहत दविंदर सिंह को हिरासत में लिया गया था।