अबकी बार किसानों पर वार! NCR के लिए मेट्रो बंद

अबकी बार किसानों पर वार! NCR के लिए मेट्रो बंद

नरेंद्र मोदी सरकार के कृषि बिलों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के किसान दिल्ली चलो मार्च निकाल रहे हैं। किसानों के आंदोलन का आज दूसरा दिन है। ‘दिल्‍ली चलो’ मार्च के तहत पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान निकल पड़े हैं। किसान दिल्ली जाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन पंजाब और हरियाणा की सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गई है। सीमा पर रोके जाने पर गुरुवार को किसान उग्र भी हो गए थे। किसान दिल्ली जाने की जिद पर अड़े हैं। हरियाणा में कई जगहों पर किसानों को रोका गया न मानने पर पानी की बौछारें और आंसू गैस के गोले भी छोड़े जा रहे हैं।

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के ‘दिल्ली चलो’ आंदोलन को देखते हुए सिंघू बॉर्डर (हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर) पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। बॉर्डर पर सघन चेकिंग अभियान से ट्रैफिक व्‍यवस्‍था चरमरा गई है। NCR के शहरों से दिल्‍ली के लिए मेट्रो सेवा बंद रहने से लोगों की परेशानी दोगुनी हो गई है। गुड़गांव, नोएडा, गाजियाबाद से दिल्‍ली आने वालों को खासी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है।

दिल्‍ली-हरियाणा सिंघू बॉर्डर छावनी में तब्‍दील

किसानों के दिल्ली आने की सबसे ज्यादा संभावना सोनीपत, पानीपत, करनाल से लगे सिंघू बॉर्डर की तरफ से है।

<center> <blockquote class=”twitter-tweet”><p lang=”hi” dir=”ltr”>कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के &#39;दिल्ली चलो&#39; आंदोलन को देखते हुए सिंघू बॉर्डर (हरियाणा-दिल्ली बॉर्डर) पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। <a href=”https://t.co/EjZjeEjcHi”>pic.twitter.com/EjZjeEjcHi</a></p>&mdash; ANI_HindiNews (@AHindinews) <a href=”https://twitter.com/AHindinews/status/1332144425166749696?ref_src=twsrc%5Etfw”>November 27, 2020</a></blockquote> <script async src=”https://platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script></center>

 

सोनीपत में भी किसानों ने डाला डेरा

 
 

रोहतक-झज्‍जर बॉर्डर पर भी जमा हैं किसान