Its-EVM-Challenge-not-Hackathon-EC

EVM हैकाथन मामले में “आप” को पत्र लिखकर चुनाव आयोग ने किया स्पष्ट, EVM चैलेंज का था वादा ना कि हैकाथॉन का।

0Shares

EVM मामले में आम आदमी पार्टी खुलकर बोलती नजर आई है लेकिन EVM चैलेंज में हिस्सा न लेने पर बीजेपी ने आम आदमी पार्टी पर हैकाथन से भागने का आरोप लगाया है। इस पर आम आदमी पार्टी ने पलटवार करते हुए कहा कि, ‘चुनाव आयोग जब EVM हैकाथन आयोजित करे हम जायेंगे, EVM प्रदर्शनी में हिस्सा लेने का कोई इरादा नहीं।’ गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने 3 जून को EVM चैलेंज में हिस्सा उन्ही राजनितिक पार्टियों को लेने के लिए मंजूरी दी है जिन्होंने 26 मई, शाम 5 बजे तक नामांकन किया है।

आम आदमी पार्टी ने 24 मई को चुनाव आयोग को पत्र लिखकर EVM हैक करने की अनुमति मांगी थी। इस पर चुनाव आयोग ने पत्र लिखकर स्पष्ट किया कि 12 मई को सर्वदलीय बैठक के दौरान EVM चैलेंज का प्रस्ताव दिया था ना कि हैकाथॉन का।

आम आदमी पार्टी ने कहा, ‘चुनाव आयोग ने दावा किया कि अगर EVM के मदरबोर्ड के साथ छेड़छाड़ की जाती है, तो मशीन काम करना बंद कर देगी, तो निर्वाचन आयोग हैकाथॉन के दौरान आप को मदरबोर्ड बदलने की मंजूरी क्यों नहीं देता’ जब चुनाव आयोग को EVM पर इतना भरोषा है तो आखिर डर किस बात की है।

आम आदमी पार्टी ने आयोग के EVM चुनौती को ‘नाटक’ बताते हुए कहा कि वह कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेगी।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *