matchbox-price-revised-rate-increase-after-14-years

रसोई गैस के बाद अब चूल्हा जलाना भी हुआ महंगा, 14 साल बाद बढ़ी माचिस की कीमत!

0Shares

महंगाई के बोझ के तले दबे देश के आम आदमी को राहत मिलने के आसार नहीं नजर आ रहे हैं। पहले से ही महंगाई से परेशान आम आदमी के लिए एक और बुरी खबर आई है। पेट्रोल-डीजल, रसोई गैस के दामों में हर रोज आग लगी हुई है। इन सबके बाद अब चूल्हें में आग जलना भी महंगा होने जा रहा है। क्योंकि माचिस(matchbox) के दामों में बढ़ोत्तरी होने जा रही है।

गरीबी, भूखमरी, बेरोजगारी से जूझ रहे हैं तो PM का भाषण सुनें! : पुण्य प्रसून बाजपाई

बताया जा रहा है कि करीब 14 वर्षों बाद माचिस के दामों में बढ़ोत्तरी होने जा रही है। TOI के खबर के मुताबिक 1 दिसंबर से माचिस के दामों में 1 रुपये की बढ़ोत्तरी होगी। यानी 1 रूपये का मिलने वाले माचिस की डिबिया के लिए अब आपको 2 रुपये चुकाने पड़ेगें। ऑल इंडिया चैंबर ऑफ मैचेस की बैठक में ये फैसला लिया गया। इस बैठक में शामिल 5 प्रमुख माचिस कंपनियों के प्रतिनिधियों ने सर्वसम्मति से ये फैसला लिया।

Photo: पूल में मस्ती करती नजर आई Guddan – Tumse Na Ho Payega फेम Kanika Mann

माचिस के दामों में बढ़ोत्तरी के लिए मुख्यरूप से डीजल के दामों में वृद्धि को माना जा रहा है। बताया गया कि माचिस के दामों में वृद्धि इस लिए किया गया क्योंकि कच्चे माल के दामों में वृद्धि हुई है जिसके चलते ऐसा करना पड़ा।

दिल्ली में बढ़ते हुए डेंगू के मामलों के लिए भाजपा-शासित MCD ज़िम्मेदार!

कच्चे माल के दामों में वृद्धि के लिए मुख्य रूप से डीजल की कीमत बढ़ने की वजह से ट्रांसपोर्टेशन महंगा होना माना जा रहा है।

2007 तक माचिस का दाम 50 पैसे था। उस समय इन्ही कारणों का हवाला देते हुए माचिस के दामों में 50 पैसे की वृद्धि की गई थी। जिसके बाद माचिस के दाम 1 रुपये हो गए थे। अब दिसंबर से माचिस के दाम 2 रूपये हो जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *