CBI-has-registered-a-false-case-against-Jain-AAP

AAP की छवि खराब करने के लिए BJP के इशारे पर CBI कर रही है काम!

0Shares

सीबीआई की टीम ने शुक्रवार को दिल्ली के गृह मंत्री सत्येंद्र जैन के निवास पर कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में छापेमारी की थी। जांच एजेंसी ने कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में FIR दर्ज की है। आम आदमी पार्टी ने CBI द्वारा सत्येंद्र जैन के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करने और मनगढंत आरोप लगाने का आरोप लगाया है। पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने कहा कि, “सीबीआई का ध्यान सिर्फ़ इस बात पर है कि आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन को कैसे फंसाया जाए। हाल में सम्पन्न हुए बवाना उपचुनाव के बाद ही ये तमाम हथकंडे अपनाए जा रहे हैं और सरकारी एजेंसी के ज़रिए विपक्षी दलों को टारगेट किया जा रहा है।” पार्टी के विधायक और मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि, “सीबीआई के पास कोई भी ठोस दस्तावेज़ मौजूद नहीं है और सिर्फ़ आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार की छवि धूमिल करने के लिए ही सीबीआई एक राजनीतिक हथियार के तौर पर काम कर रही है।”





सीबीआई को सत्येंद्र जैन के घर पर छापेमारी के दौरान 50 हजार रुपए कैश, 52 ग्राम सोना मिला। इसके अलावा इनकम टैक्स रिटर्न के कागज, चुनाव आयोग के कागज,हाई कोर्ट में लगाए कागज सीबीआई के अफसर अपने साथ ले गए, उनके घर रखे सरकारी फर्नीचर की लिस्ट बनाकर भी अपने साथ ले गए। पार्टी ने सीबीआई के पास सत्येंद्र जैन के खिलाफ़ कोई ठोस सबूत नहीं होने व केंद्र सरकार की तमाम एजेंसियां सत्येंद्र जैन के परिवार को लगातार परेशान करने की बात कही। पार्टी ने आम आदमी पार्टी चुनौती देते हुए कहा, “अगर कोई सबूत है तो कोर्ट में चार्जशीट दाखिल करे सीबीआई। बिना सुबूत के ही जांच एजेंसियां पत्रकारों को बुलाकर उनको फर्ज़ी खबरें देती हैं और आम आदमी पार्टी एंव दिल्ली सरकार के मंत्री को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।”





बीजेपी पर अपने प्रतिद्वंदी पार्टियों को निस्तानाबूता करने के लिए सरकारी एजेंसियों, खरीद परोख्त कर सरकार गिराने या बनाने और परेशान करने के आरोप लगते रहे हैं। गुजरात राजयसभा चुनाव के दौरान भी ये चीजें देखने को मिली जब बीजेपी ने कांग्रेस के विधायकों को अपने पाले में करना शुरू कर दिया। जिसके चलते कांग्रेस ने अपने बचे सभी विधायकों को गुजरात से दूर होटल में एक साथ रहने को भेज दिया था। आम आदमी पार्टी ये कहती रही है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी को आम आदमी पार्टी के हाथों मिली करारी हार को बीजेपी अभी तक पचा नहीं पाई है। इसी हार के चलते बीजेपी दिल्ली सरकार और दिल्ली के लोगों से बदला लेने के लिए अपने एजेंसियों के द्वारा परेशान करती रहती है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *