punya-prasun-bajpai-truggling-with-poverty-hunger-unemployment-listen-to-the-speech-of-the-pm

गरीबी, भूखमरी, बेरोजगारी से जूझ रहे हैं तो PM का भाषण सुनें! : Punya Prasun Bajpai

0Shares

वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी (Punya Prasun Bajpai) ने बढ़ती महंगाई के दौर में उत्सव मनाने को लेकर केंद्र सरकार पर कटाक्ष किया है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 अक्टूबर को देश के नाम सम्बोधन दिया था। जिसमें उन्होंने 100 करोड़ वैक्सीन डोज पर मेडिकल कर्मचारियों के साथ साथ अपनी सरकार का गुड़गान कर रहे थे। पुण्य प्रसून ने इस दौर में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, भुखमरी और कारखानों के बंद होने के दौर में उत्सव मनाने को लेकर सरकार पर निशाना साधा है।

भारत में Covid-19 टीकाकरण का कुल आंकड़ा 99 करोड़ के पार

उन्होंने कहा, इस दौर में डिग्रीधारियों के पास कोई काम नहीं है। इस दौर में मिडिल क्लास पर टैक्स की मार है। इस दौर में जबरदस्त महंगाई है। लेकिन इस दौर में प्रधानमंत्री के माथे पर कोई शिकन नहीं है। हंसता मुस्कुराता नूरानी चेहरा कह रहा है इस देश में उमंग है, उत्साह है, उल्लास है। खुश हो जाइए दीपावली का त्यौहार है। तो मौजूदा वक्त में देश के नागरिक समझ ले अगर वो गरीबी, भूखमरी, मुफलिसी, बेरोजगारी इन परिस्थियों से जूझ रहे हैं तो फिर वो प्रधानमंत्री का भाषण सुन लें।

PM Modi ने 100 करोड़ टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करने पर राष्ट्र को संबोधित किया

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने प्रधानमंत्री मोदी के देश के नाम सम्बोधन पर कटाक्ष करते हुए कहा, जिस वक्त इस देश में ऑक्सीजन की कमी से मरीज मर रहे थे, जिस वक्त देश में लोग अस्पतालों के चक्कर काट रहे थे और अस्पतालों में लम्बी लम्बी लाइनें लगी थी। जिस वक्त शवों को जलाने के लिए शमशानों में जगह नहीं थी उस वक्त प्रधानमंत्री ने चुप्पी साध रखी थी।

Photo: पूल में मस्ती करती नजर आई Guddan – Tumse Na Ho Payega फेम Kanika Mann

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *